Monday , June 1 2020
Breaking News
Home / जालंधर / सिद्धू द्वारा सस्पैंड 8 बिल्डिंग मुलाजिमों के बहाल होने की जगी उम्मीदें

सिद्धू द्वारा सस्पैंड 8 बिल्डिंग मुलाजिमों के बहाल होने की जगी उम्मीदें

जालंधर  : स्थानीय निकाय मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू द्वारा शहर में अवैध काटी गई कालोनियों और कामर्शियल निर्माणों के मामले में सस्पेंड किए गये बिल्डिंग ब्रांच के 8 मुलाजिमों के बहाल होने की उम्मीद जाग उठी हैं। इनको फिर से बहाल करने को लेकर विभाग में खूब चर्चाएं होने लगी हैं। विभागीय सूत्रों के अनुसार मंत्री सिद्धू ने सस्पैंड किए मुलाजिमों के बहाल करने के लिए फाइलों को आगे बढ़ाना शुरू कर दिया हैं। उम्मीद है कि इसके ऑर्डर जल्द ही जालंधर नगर निगम को मिलेंगे।

शुरूआती तौर पर पहले सीनियर टाउन प्लानर (एसटीपी) को बहाल करने के बाद सस्पैंड किए गये एमटीपी, एटीपी और इंस्पेक्टरों को वापिस नौकरी पर रखा जाएगा। चर्चा ये भी रही कि सस्पैंड किये मुलामिजों को बिना काम करवाये कम वेतन दिया जा रहा हैं और वे अदालत का दरवाजा खटखटायें, उससे पहले ही इन मुलाजिमों को बहाल करने का फैसला लिया जा रहा हैं। अभी तक बहाली को लेकर चंडीगढ़ से कोई आर्डर नहीं आये हैं, लेकिन विभागीय सूत्रों में सस्पैंड मुलाजिमों के बहाल होने की चर्चायें होने लगी हैं। गौरतलब है कि नवजोत सिंह सिद्धू ने इस साल के जून माह में जालंधर का दौरा करते हुए अवैध काटी गई कालोनियों और अवैध निमाणों को देखने के बाद नगर निगम के बिल्डिंग ब्रांच के 8 मुलाजिमों को सस्पेंड कर दिया था। इनमें सीनियर टाउन प्लानर (एसटीपी) मोनिका आनंद, एसटीपी परमपाल सिंह, एमटीपी मेहरबान सिंह, असिस्टेंट टाउन प्लानर (एटीपी) नरेश मेहता, एटीपी बलविंदर सिंह, इंस्पैक्टर नीरज शर्मा, इंस्पैक्टर पूजा मान व इंस्पैक्टर अजीत शर्मा शामिल थे।

About Front Page

Check Also

लॉकडॉउन 5.0 के तहत पंजाब सरकार ने जारी की नयी गाइडलाइन्स

फ्रंट पेज (ब्यूरो)31 मई तक 4.0 लाकडाउन खत्म होने के बाद 1 जून से लोकडाउन …