Friday , December 4 2020
Breaking News
Home / पंजाब / एसएफजे की आई.एस.आई. के साथ साठगांठ उजागर : कैप्टन अमरिंदर

एसएफजे की आई.एस.आई. के साथ साठगांठ उजागर : कैप्टन अमरिंदर

सिखज फॅार जस्टिस (एस.एफ.जे.) की ओर से पंजाब को भारत से आज़ाद कराने के लिए पाकिस्तान की मदद मांगने को लेकर दिए गए बयान से इस संस्था के घिनौने इरादे और पाकिस्तानी फौज और आईएसआई. के साथ साठगांठ का पर्दाफाश हो गया है। यह जानकारी मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने आज यहां दी। उन्होंने एसएफजे के कानूनी सलाहकार गुरपतवंत सिंह पन्नू के बयान पर प्रतिक्रिया जाहिर करते हुए कहा कि सच अब पूरी तरह उजागर हो गया है और एस.एफ.जे और पाकिस्तानी फ़ौज के संबंधों की हकीकत जग ज़ाहिर हो चुकी है। मुख्यमंत्री ने कहा कि इस बयान ने एस.एफ.जे. के उस झूठ से भी पर्दा उठा दिया है जिसमें खालिस्तान अलग राज्य को लेकर चुनाव के लिए शांतिपूर्वक लहर चलाने का दावा किया गया था। यह अब प्रत्यक्ष रूप में सामने आया है कि एस.एफ.जे पाकिस्तानी फौज और आई.एस.आई. के समर्थन से पंजाब में गड़बड़ी फैलाने की कोशिश की जा रही है। उन्होंने कहा कि इस बयान से पन्नू के पाकिस्तानी फ़ौज और आई.एस.आई. की मदद से पंजाब को भारत से अलग करने के इरादे भी ज़ाहिर हो गए हैं। एस.एफ.जे. की तरफ से गुरु नानक देव जी के 550वें प्रकाश पर्व के पवित्र मौके पर ‘करतारपुर कन्वैंशन -2019   करवाने की योजना पर भी सख़्त प्रतिक्रिया व्यक्त की है।

कैप्टन सिंह ने कहा कि इस बयान ने मेरी आशंका को पक्का कर दिया है कि पाकिस्तान की तरफ से करतारपुर रास्ता खोलने का फ़ैसला एस.एफ.जे. समेत भारत विरोधी ताकतों की मदद करने के बारे में आई.एस.आई. की साजिश को दर्शाता है। इससे एक बार फिर सिद्ध हो गया है कि पाकिस्तान सरकार कठपुतली शासन की तरह हमेशा ही वहाँ से फ़ौज के इशारे पर काम करती रही है और आगे भी करती रहेगी। मुख्यमंत्री ने दोहराया कि पंजाब और भारतीय फ़ौज पड़ोसी मुल्क की ऐसी किसी भी साजिश का मुकाबला करने के लिए पूरी तरह तैयार है।पंजाब अब 80 और 90 के दशकों की अपेक्षा सक्षम तथा मजबूत है। मुख्यमंत्री ने कहा कि वह भारत में सिख भाईचारे की माँग की पूर्ति के लिए करतारपुर रास्ता खुलने के पूरी तरह हक में हैं। यह इस प्रयास का दुरुपयोग है जिसका वह विरोध करते हैं। यदि पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान सच्चे दिल से इस रास्ते के द्वारा भारत के साथ शान्ति के द्वार खोलना चाहते हैं तो उनको एस.एफ.जे. के बयान की स्पष्ट निंदा करनी चाहिए और वो स्पष्ट करें कि भारत विरोधी अलगाववादी ताकत अपनी मुहिम चलाने के लिए पाकिस्तान की धरती का प्रयोग नहीं होने देंगे । उन्होंने पाकिस्तानी नेता को ‘करतारपुर साहिब कन्वैंशन -2019 Ó करवाने से भी रोकने के लिए कहा।

About Front Page

Check Also

पंजाब सरकार द्वारा दी गई गाइडलाइन 15 अक्टूबर से खुलेंगे स्कूल

फ्रंट पेज (रमेश कुमार) पंजाब कैप्टन सरकार द्वारा स्कूल खोलने का फैसला ले लिया गया …