Monday , June 1 2020
Breaking News
Home / जालंधर / एचएमवी में ऐडल्ट ऐजुकेशन सोसाइटी एवं लीगल लिटरेसी सोसाइटी की तरफ से उपदेशात्मक संभाषण का आयोजन

एचएमवी में ऐडल्ट ऐजुकेशन सोसाइटी एवं लीगल लिटरेसी सोसाइटी की तरफ से उपदेशात्मक संभाषण का आयोजन

जालन्धर । हंसराज महिला महाविद्यालय, जालन्धर में प्राचार्या प्रो. डॉ. अजय सरीन के योग्य नेतृत्व अधीन ऐडल्ट ऐजुकेशन सोसाइटी एवं लीगल लिटरेसी सोसाइटी की तरफ से शिक्षा के महत्व विषय पर उपदेशात्मक संभाषण का आयोजन किया गया। सबसे पहले डीएवी गान हुआ तदुपरांत प्रिं. डॉ. सरीन ने मुख्यातिथि पूर्णिमा बेरी, मैनेजिंग डायरेक्टर लीडर वाल्व प्राइवेट लिमिटेड फांउडर एवं मैंबर ऑफ संजीवनी एवं मानवीय अतिथि लेखराज शर्मा, ऐडवोकेट हाई कोर्ट ऑफ पंजाब एवं हरियाणा को प्लांटर, फाइन आर्टस विभाग द्वारा बनाई पेंटिंग एवं स्मृति चिन्ह भेंट कर उनका तहे दिल से स्वागत किया।

उन्होंने उपस्थित अतिथिगणों, टीचिंग एवं नॉन टीचिंग ओर छात्राओं का अभिनंदन किया एवं ऐसे महान व्यक्तियों के कॉलेज प्रांगण में आने से छात्राओं का ही नहीं बल्कि हमारा मनोबल भी बढ़ता है और उनकी संस्था द्वारा समाज के वयस्कों को आगे बढ़ाने का जो कदम उठाया है वह प्रशंसनीय है। उन्होंने छात्राओं के शिक्षा के क्षेत्र में इस प्रशंसनात्मक योगदान की प्रशंसा करते हुए कहा कि आप सब एक संदेश आगे बढ़ाने के सूत्रधार हो और आपके द्वारा किए गए इस कार्य पर हम शौशन्वित महसूस करते है। परमपिता परमात्मा से प्रार्थना है कि हमारे समाज का वो हिस्सा जो शिक्षा से अनभिज्ञ है उनको शिक्षित करके उन्हें देश का सच्चा नागरिक बना सकें और अपने लक्ष्य को प्राप्त कर सकें।
इसी उपलक्ष्य में पूर्णिमा बेरी ने कहा कि हम वयस्क हो जाने पर पढऩे की बजाय जीवन से निरंतर कुछ नया सीखते रहते है। उन्होंने महान विद्वानों गुरू रामानंद स्वामी दयानंद के उदाहरण देते हुए कहा कि इन महान विद्वानों ने अपने जीवन के हर एक मोड़ पर कुछ न कुछ नया सीखा। कॉलेज की छात्राओं के इस कार्य की प्रशंसा की एवं प्रेरित करते हुए कहा कि शिक्षा कभी भी समाप्त नहीं होती वह निरंतर हमारे साथ चलती है एवं उनकी इन कोशिशों में और सुधार लाने के लिए कहा कि वे इन वयस्क वर्ण को विषयों से संबंधित शिक्षा ही ने दें बल्कि उन्हें एक अच्छा नागरिक बनने के लिए नैतिक मूल्यों की भी शिक्षा दी जाए जिससे उनके व्यक्तित्व में उन्नति हो।

तदुपरांत लेख राज शर्मा ने विषयों की शिक्षा के साथ कानूनी शिक्षा के विषय पर चर्चा करते हुए कहा कि विषयों की शिक्षा हमें शिक्षित करती है परंतु कानूनी शिक्षा हमें अपने हक के प्रति जागरूक बनाती है। उन्होंने छात्राओं के इस प्रयास की प्रशंसा करते हुए कहा कि उनके इस कार्या से एक स्वस्थ एवं खुशहाल साज की स्थापना हो सके। कालेज प्राचार्या एवं उपस्थित अतिथिगणों ने वयस्कों एवं छात्राओं को किटस देकर सम्मानित किया।
मंच संचालन ऐडल्ट ऐजुकेशन क्लब की इंचार्ज व हिन्दी की अस्सिटेंट प्रोफसर डा. निधि बल ने किया। अंत में धन्यवाद प्रस्तराव प्रस्तुत करते हुए कु. अनिशा ने कहा कि आज के इस समागम के माध्यम से आपके द्वारा दिए गए ज्ञानवर्धक विचारों से छात्राएं लाभान्वित हुई है।
इस उपलक्ष्य में पोलिटिक्ल साईंस विभागाध्यक्षा नीटा मलिक, राजीव कुमार, अलका, युविका, सोनिया महेंद्रु, डा. जीवन देवी, लाीमती पवन कुमारी एवं श्रीमती अनुराधा ठाकुर भी उपस्थित रहीं।

About Front Page

Check Also

लॉकडॉउन 5.0 के तहत पंजाब सरकार ने जारी की नयी गाइडलाइन्स

फ्रंट पेज (ब्यूरो)31 मई तक 4.0 लाकडाउन खत्म होने के बाद 1 जून से लोकडाउन …